Thursday, 28 January 2016

वैज्ञानिकों ने किया अविष्कार, इलेक्ट्रॉनिक फोर्क देगा नमक का स्वाद


वैज्ञानिकों ने किया अविष्कार, इलेक्ट्रॉनिक फोर्क देगा नमक का स्वाद
बीजिंग: क्या आप जानते हैं नमक के जितने फायदे हैं, उतने ही नुकसान भी हैं। नमक पर कंट्रोल आपका बीपी (ब्लड प्रेशर) कंट्रोल रखता है, वहीं वज़न कम करने के दौरान भी इसकी मात्रा को सीमित करना जरूरी होता है। अगर खाने में नमक न हो तो उसका स्वाद-बेस्वाद हो जाता है, लेकिन ज़्यादा नमक खाने के टेस्ट के साथ सेहत भी बिगाड़ देता है। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए जापान के शोधकर्ताओं ने हाल में ही एक इलेक्ट्रिकल फोर्क का आविष्कार किया है जो किसी भी खाने को स्वादिष्ट बना सकती है। जी हां, खाने में नमक न डालकर भी नमक का स्वाद लिया जा सकता है। यह व्यंजनों के ऊपर छिड़के जाने वाले नमक मसालों की जगह ले सकती है।
टोक्यो मेईजी विश्वविद्यालय के पोस्ट डॉक्टरेट शोधार्थी हिरोमी नाकामूरा के मुताबिक यह तकनीक उन लोगों के लिए काफी उपयोगी साबित होगी जो विशेष आहार ले रहे होते हैं।
 

नाकामूरा इस प्रक्रिया को 'आभासी स्वादानुभूति' कहती हैं। इस फोर्क के दो हिस्से हैं, जिसमें से ऊपरी हिस्से में हैंडल लगा है। यह इलेक्ट्रोड का काम करता है। वे बताती हैं कि जब इस फोर्क की मदद से आप निवाले का एक टुकड़ा अपने मुंह में डालते हैं तो आप इसमें लगे सर्किट के संपर्क में आ जाते हैं। जैसे ही आप इस फोर्क को मुंह से हटाते हैं तो सर्किट से संपर्क टूट जाता है। इस तरह से यह एक स्विच की तरह काम करता है।

उनके मुताबिक इस तरह का फोर्क हाई ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन से पीड़ित लोगों की भी मदद कर सकता है, क्योंकि वे सोडियम की अधिकता की परवाह किए बिना नमक का स्वाद ले सकेंगे।

वास्तव में इलेक्ट्रिसिटी हमारे स्वाद इंद्रियों पर असर डालता है ना कि अकेले खाने पर। हालांकि नाकामूरा को इस डिवाइस को बनाने में काफी वक्त लगा, लेकिन अभी वह इसे लोगों के इस्तेमाल के लिए नहीं लाना चाहतीं। उनका कहना है कि अभी वे इस पर और भी रिसर्च करेंगी। वे दावा करती हैं कि जितना ज्यादा वे स्वाद इंद्रियों की कार्यप्रणाली को समझ पाएंगी, उतना ही बेहतर वह इस फोर्क को डिजाइन कर पाएंगी ताकि विभिन्न प्रकार के टेस्टों को बिना खाने के लोगों के मुंह तक पहुंचा पाए।